बतकही

बातें कही-अनकही…

आलोचना

संविधान है तो हम हैं !

26 जनवरी 2024 को सम्पूर्ण भारत ने देशभर में हज़ारों-लाखों स्थानों पर अपना 75वाँ गणतंत्र दिवस और इस दिवस की 74वीं वर्षगाँठ मनाई; सबसे अधिक महत्वपूर्ण कि भारत के हज़ारों विद्यालयों ने अपने विद्यार्थियों को इस महान दिवस से पुनः परिचित कराया | देशभर में इस दिवस को 15 अगस्त के ‘स्वाधीनता दिवस’ (अंग्रेज़ों की गुलामी से स्वाधीनता) से भी अधिक संख्या में और अधिक उत्साह से मनाया जाता है | इसका कारण भी है...…

error: Content is protected !!